Headlines :
Home / States / Bihar / विशाखा गैस लीक कांड एवं महाराष्ट्र रेल हादसा के खिलाफ माले का धिक्कार सभा।

विशाखा गैस लीक कांड एवं महाराष्ट्र रेल हादसा के खिलाफ माले का धिक्कार सभा।

घटना की जिम्मेवारी तय कर दोषियों को सजा एवं मृतकों के परिजनों को नौकरी व मुआवजा मिले- सुरेंद्र

अमरदीप नारायण प्रसाद

गैस लीक कांड एवं रेलकांड हादसा जनसंहार है- बंदना सिंह
पुरुष अपने बाहों पर काली पट्टी बांधा तो महिलाएं काली साड़ी पहनकर विरोध जताई।
विशाखा गैस लीक कांड एवं महाराष्ट्र रेल हादसा की जिम्मेवारी तय करने, दोषियों को सजा देने एवं मृतकों एवं घायलों के परिजनों को सरकारी नौकरी एवं 20-20 लाख रुपया मुआवजा देने की मांग को लेकर शनिवार को भाकपा माले के कार्यकर्ताओं ने शहर के विवेक-विहार मोहल्ला में लाकडाउन का पालन करते हुए अपने देशव्यापी अभियान के तहत धिक्कार दिवस मनाया.
मौके पर कार्यकर्ताओं ने घटना के खिलाफ अपने- अपने बाहों पर काली पट्टी बांध रखे थें. वहीं ऐपवा जिलाध्यक्ष बंदना सिंह एवं नीलम देवी काली साड़ी पहनकर घटना का प्रतिकार किया. कार्यकर्ता अपने हाथों में मांगों से संबंधित नारे लिखे तख्तियां,झंडे,बैनर लहरा रहे थे. मौके पर एक सभा का आयोजन किया गया. अध्यक्षता भाकपा माले जिला कमेटी सदस्य सुरेंद्र प्रसाद सिंह ने किया. बंदना सिंह, नीलम देवी, मो० सगीर, मनोज सिंह, मनोज शर्मा आदि ने सभा को संबोधित किया. अपने अध्यक्षीय संबोधन में माले नेता सुरेंद्र प्रसाद सिंह ने कहा की विशाखा गैस लीक कांड एवं महाराष्ट्र ट्रेन हादसा विभत्स घटना है. इस घटना को भोपाल गैस त्रासदी की तरह सरकार लटकाने की कोशिश कर रही है. यह खतरनाक संदेश है. सरकार घटना की उच्च स्तरीय जांच कराकर जिम्मेवारी तय करे, दोषियों को कड़ी सजा दे. माले नेता ने सभी घायलों को सरकारी खर्च पर इलाज कराने, घायलों एवं मृतकों के परिजनों को सरकारी नौकरी एवं 20-20 लाख रुपये मुआवजा तत्काल देने की मांग की.
ऐपवा जिलाध्यक्ष बंदना सिंह ने इस घटना का लाकडाउन जनसंहार करार दिया. कार्यक्रम के अंत में तमाम घायलों के प्रति संवेदना व्यक्त करते हुए मृतकों को दो मिनट का मौन धारण कर श्रद्धांजलि दिया गया.

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

विशाखा गैस लीक कांड एवं महाराष्ट्र रेल हादसा के खिलाफ माले का धिक्कार सभा।

घटना की जिम्मेवारी तय कर दोषियों को सजा एवं मृतकों के परिजनों ...