Headlines :
Home / States / Bihar / भागलपुर : ड्यूटी के लिए अपनी शादी टाली ये महिला सिपाही

भागलपुर : ड्यूटी के लिए अपनी शादी टाली ये महिला सिपाही

आलोक कुमार झा भागलपुर

भागलपुर पुलिस लाइन में तैनात महिला सिपाही ने ड्यूटी के खातिर अपनी शादी के तिथि को टाली, और कहां पहले निभाऊंगी ड्यूटी।

प्रीति कुमारी, महिला सिपाही


देश अभी कोरोना के संकट से गुजर रहा है ,अभी वर्दी का फर्ज निभाएंगे, फिर पिया के नाम चुनरी ओढ़ेंगे, देश के लिए कुछ कर गुजरने का अभी समय है,शादी की तो तारीख बढ़ भी जाएगी ,लेकिन देश पर जो अभी विपत्ति आई है ,इस वक्त यदि हम देश के काम नहीं आए, और खाकी का फर्ज नहीं निभाया तो मेरा जमीर मुझे कभी माफ नहीं करेगा ,ऐसे ही सोच के साथ भागलपुर में कार्यरत एक महिला सिपाही ने आज होने वाली अपनी सगाई को टाल दी है, और आज सगाई के दिन भी वह भागलपुर के सड़कों पर मुस्तैदी के साथ अपना ड्यूटी करते दिख रही है ,दरअसल
कोरोना ने देश और दुनिया में मुश्किलें तो बढ़ायीं, लेकिन इन्हीं मुश्किलों में राह चुन कुछ ने अपने जज्बे से अपनी जिम्मेदारियों की मिसाल भी कायम कर दी है,भागलपुर में तैनात महिला पुलिसकर्मी ने फर्ज की एक अनोखी मिसाल पेश की है, फर्ज की खातिर अपनी सगाई और शादी दोनों को टाल दिया , महिला पुलिस के सराहनीय कदम की अफसर भी तारीफ़ कर रहे हैं, 
भागलपुर पुलिस लाइन में पिछले दो साल से तैनात प्रीति कुमारी कुछ ऐसे ही चंद जिम्मेदारों की फेरहरिस्त में शुमार है,प्रीति की सगाई आज की तारीख यानी 1 मई को होनी थी, और आठ मई को शादी होनी थी. तैयारियां भी जोरों पर थीं और शादी का कार्ड भी छप चुका था , लेकिन कोरोना संकट और लॉकडाउन के बीच प्रीति ने सब कुछ छोड़ कर अपनी ड्यूटी मुस्तैदी से निभाना ज्यादा महत्वपूर्ण समझा,उसने अपने घर वालों से तत्काल छेका और शादी कैंसिल करने का आग्रह किया, ताकि उसकी ड्यूटी में किसी भी तरह की कोई कमी नहीं रह जाए,

आशीष भारती सीनियर एसपी भागलपुर

रोहतास जिले के सेमरा गांव की रहने वाली प्रीति सात भाई-बहनों में तीसरे नंबर पर है. एक गरीब किसान परिवार से ताल्लुक रखने वाली प्रीति के पिता मुरली पासवान ने मजदूरी कर किसी तरह सबकी परवरिश की. साथ ही प्रीति को पढ़ाई के लिए प्रोत्साहित किया. प्रति खुद पढ़ाई के साथ साथ अपना और अपने भाई-बहनों की पढ़ाई का खर्च उठाने के लिए बच्चों को ट्यूशन पढ़ाया करती थी और प्रीति ने यह प्रण किया था कि जब तक उसका जॉब नहीं हो जाता है, वह शादी नहीं करेगी,प्रीति का कहना है कि, इस समय स्वयं के बजाय उनकी जिम्मेदारी आम नागरिकों की रक्षा करने के लिए अधिक है,


लोगों को कोरोना के संक्रमण से बचाने के लिए उन्हें जागरूक करना है,साथ ही विभाग व शासन के दिशा-निर्देशों के तहत कार्य करना है, जिससे किसी भी विषम परिस्थिति से आसानी से निपटा जा सके,
उन्होंने बताया कि अपने माता-पिता के साथ ही ससुराल पक्ष से बातचीत के बाद ही हमने यह निर्णय लिया है,

पुलिस वरीय अधीक्षक आषिश भारती ने भी महिला पुलिस की जमकर प्रशंसा की है उन्होंने कहा कि जिस तरह से भागलपुर में तैनात महिला सिपाही ने ड्यूटी को अपना अपनी पहली प्राथमिकता चुनी है बाद में पर्सनल लाइफ को यह काफी प्रशंसनीय है उन्होंने कहा कि इसी तरह भागलपुर में कई पुलिस अफसर हैं और सिपाही हैं जो अभी इस संकट की घड़ी में घर द्वार छोड़कर पहले ड्यूटी को प्राथमिकता दे रहे हैं सभी प्रशंसा के पात्र हैं, एसएसपी ने कहा कि इस तरह के जोश, जब्जे और निर्णय क्षमता, अन्य के लिए प्रेरणा है,

2018 में वह बिहार पुलिस के लिए चयनित हो गयी और बांका में ट्रेनिंग के बाद भागलपुर पुलिस लाइन में तैनाती हुई. प्रीति ने पहले से ही तय कर रखा था कि नौकरी मिलने के बाद ही शादी करेगी. हुआ भी कुछ ऐसा ही, लेकिन इस बीच कोरोना और लॉक डाउन की दुश्वारियों में फिलहाल शादी टल गयी. अब उसके घरवालों और परिजनों को सबकुछ सामान्य होने पर शादी की अगली तारीख तय कि जाएगी । वहीं प्रीति की बडे भाई की 11 मई को शादी होनी है, ड्यूटी निभा रही प्रीति ने यह भी तय नहीं किया कि 11 मई को बड़े भाई की शादी में वह जायेगी भी या नहीं । प्रति ने अपने कर्तव्य व फर्ज को महत्वपूर्ण मानते हुए एक मिसाल पेश की है, हम वैश्विक महामारी कोरोनावायरस के संक्रमण के बीच बिहार पुलिस के इस महिला सिपाही के जज्बे को सलाम करते हैं….

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

पटना में भारी मात्रा में ब्रॉउन शुगर (स्मैक)के साथ एक तस्कर गिरफ्तार।।

पटना : एक तरफ पूरी दुनिया कोरोना जैसे महामारी से लड़ रहा ...